दिशा&छाया न्यूज़ को आवश्यकता है मुज़फ्फरनगर, सहारनपुर, शामली ओर उत्तर प्रदेश में से तहसील, जिला स्तर,कस्बो,गांव में से रिपोर्टर,ओर कैमरामैन, एंकर, के लिए इछुक लड़के और लड़कियां हमे तुरन्त संपर्क करे :-09891980535, 09690142222, 08868991239

कश्मीर को लेकर पीएम मोदी और ट्रंप की बातचीत पर औवैसी का हमला, बोले- ट्रंप कोई चौधरी हैं क्या?

Spread the love

नई दिल्ली: 

कश्मीर मुद्दे पर डोनाल्ड ट्रंप के साथ की आवश्यकताओं पर हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने सवाल उठाए हैं. ओवैसी का यह रिएक्शन कश्मीर को लेकर पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की फोन पर बातचीत के तुरंत बाद आया. पाकिस्तान के साथ जारी तनाव के बीच बीते दिनों पीएम मोदी और ट्रंप के बीच करीब 30 मिनट फोन पर बातचीत हुई थी.

पीएम मोदी और डोनाल्ड ट्रम्प की बातचीत पर निराशा व्यक्त करते हुए असदुद्दीन ओवैसी निराशा जताई. उन्होंने कहा, “पीएम मोदी के फोन पर ट्रम्प से बात करने और एक द्विपक्षीय मुद्दे पर चर्चा करने पर मुझे आश्चर्यच हुआ है. पीएम मोदी के इस कदम से पुष्टि होती है, जो ट्रम्प ने पहले कश्मीर पर दावा किया था. यह एक द्विपक्षीय मुद्दा है और किसी तीसरे पक्ष को हस्तक्षेप करने की अनुमति नहीं है.”

असदुद्दीन ओवैसी ने पूछा कि क्या ट्रम्प पूरी दुनिया के “पुलिसकर्मी” हैं या  ‘चौधरी’  हैं. उन्होंने कहा, “हम शुरू से ही यह कहते रहे हैं कि कश्मीर एक द्विपक्षीय मुद्दा है. भारत का इस पर बहुत ही स्थिर रुख है. फिर प्रधानमंत्री मोदी को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से बातचीत करने और इसकी शिकायत करने की क्या आवश्यकता थी.”

ओवैसी ने कहा, “हमारे पीएम ने फोन पर कश्मीर को लेकर डोनाल्ड ट्रंप से बातचीत की. ट्रंप हमारे लिए क्या है? क्या वह पूरी दुनिया के पुलिसकर्मी हैं या वह कोई चौधरी हैं?”

गौरतलब है कि पाकिस्तान के साथ कश्मीर को लेकर जारी तनाव के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से फोन पर बात की थी. दोनों के बीच लगभग 30 मिनट तक बात हुई. इस दौरान द्विपक्षीय संबंधों एवं आपसी सहयोग को लेकर भी चर्चा हुई. दोनों नेताओं के बीच सीमापार से होने वाले आतंकवाद को लेकर भी बात हुई थी. सरकार की तरफ से जारी बयान में बताया गया था कि मोदी और ट्रंप के बीच 30 मिनट तक बातचीत ‘गर्मजोशी भरी और सौहार्दपूर्ण’ तरीके से हुई और इसमें द्विपक्षीय, क्षेत्रीय मामले शामिल थे.


Spread the love