दिशा&छाया न्यूज़ को आवश्यकता है मुज़फ्फरनगर, सहारनपुर, शामली ओर उत्तर प्रदेश में से तहसील, जिला स्तर,कस्बो,गांव में से रिपोर्टर,ओर कैमरामैन, एंकर, के लिए इछुक लड़के और लड़कियां हमे तुरन्त संपर्क करे :-09891980535, 09690142222, 08868991239

टेक्सटाइल में मंदी की मार: मिल्स एसोसिएशन ने दिया अखबार में AD, कांग्रेस बोली- कुंभकरणी नींद सो रही सरकार

Spread the love

नई दिल्लीदेश के कई उद्योगों पर इन दिनों आर्थिक मंदी की मार पड़ रही है. मंदी की वजह से अब टेक्सटाइल सेक्टर भी संकट में है. इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि टेक्सटाइल्स मिल्स एसोसिएशन ने मंदी और रोजगार को लेकर अखबारों में विज्ञापन दिया है. वहीं, कांग्रेस भी अब मंदी को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर हमलावर हो गई है. कांग्रेस ने कहा है कि मंदी जैसे संकट में भी बीजेपी सरकार कुंभकरणी नींद सो रही है.

 

कांग्रेस ने क्या कहा है?

 

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्विटर पर एसोसिएशन का विज्ञापन शेयर करते हुए लिखा है, ‘’खेती के बाद सबसे ज़्यादा रोज़गार पैदा करने वाला ‘कपड़ा उद्योग’ अब गंभीर मंदी की मार में. अख़बार में इश्तिहार तक दिया, लेकिन बीजेपी सरकार कुंभकरणी नींद सो रही है. क्या देश का रोज़गार ख़त्म करना और उद्योग बंद करना देश विरोधी नहीं?’’

 

 

विज्ञापन में क्या बताया गया है?

 

दरअसल, कुछ अखबारों में छपे विज्ञापन में ‘नॉर्दन इंडिया टेक्सटाइल मिल्स एसोसिएशन’ की तरफ से बताया गया है कि टेक्सटाइल सेक्टर में नौकरियों पर संकट मंडरा रहा है. एसोसिएशन ने अपने विज्ञापन में साल 2018 और 2019 की तुलना करके बताया है कि अप्रैल से जून तक के महीने में सूती धागे के निर्यात में कमी आई है.

 

साल 2018 के अप्रैल महीने में सूती धागे का निर्यात 337 यूएस मिलियन डॉलर का था, जबकि 2019 में 266 यूएस मिलियन का ही रहा. मई 2018 में सूती धागे का निर्यात 349 यूएम मिलियन डॉलर का था. विज्ञापन में टाइटल के रूप में लिखा गया है, ‘’बुनकर उद्योग बड़े संकट से गुजर रहा है.’’

 


Spread the love