दिशा&छाया न्यूज़ को आवश्यकता है मुज़फ्फरनगर, सहारनपुर, शामली ओर उत्तर प्रदेश में से तहसील, जिला स्तर,कस्बो,गांव में से रिपोर्टर,ओर कैमरामैन, एंकर, के लिए इछुक लड़के और लड़कियां हमे तुरन्त संपर्क करे :-09891980535, 09690142222, 08868991239

कठुआ गैंगरेप: SIT की निष्पक्ष जांच, गुलाम नबी आजाद के पोलिंग एजेंट थे सलाथिया- मीनाक्षी लेखी

Spread the love

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर के कठुआ गैंगरेप मामले में बीजेपी सांसद मिनाक्षी लेखी ने कहा है कि वहां की बार एसोसिएशन के प्रेजिडेंट सलाथिया जी एक तरफ तो न्याय की बात करते हैं, वही दूसरी तरफ हाई कोर्ट को बंद करने की बात कर रहे है।’ उन्होंने कहा कि ‘यही सलाथिया जी गुलाम नबी आज़ाद जी के पोलिंग एजेंट थे, इससे पता चलता है की वहां किस प्रकार की घृणात्मक राजनीति चल रही है।’

– लेखी ने कहा कि ‘महिलाओं और बच्चों के उत्पीड़न पर किसी भी प्रकार की राजनीति नहीं होनी चाहिए।’ उन्होंने कहा कि ‘कठुआ मामले में एक निष्पक्ष जांच की गई। एसआईटी का गठन किया गया और 6-7 लोगों को गिरफ्तार किया गया।’

– उत्तर प्रदेश स्थित उन्नाव गैंगरेप पर लेखी ने कहा कि  ‘उन्नाव की घटना 10 महीने पहले की है। पुलिस ने मजिस्ट्रेट के सामने बयान लिया, इसमें विधायक का नाम नहीं लिया, फिर महिला ने पीएम और योगी आदित्यनाथ को चिट्ठी लिखी और इसमें विधायक पर आरोप लग, फिर कार्यवाही हुई।’

– लेखी ने कहा कि कठुआ और उन्नाव को लेकर मैंने मंच से भाषण दिया और कहा कि हम महिला और बच्चों के साथ ऐसी कोई भी दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई है तो आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले। इसके साथ ही पीड़िता को न्याय मिले।

– लेखी ने कहा कि अपराधी कोई छूट ना जाए और माहौल ना बिगड़े इसकी जिम्मेवारी हम सबकी है। कठुआ के अंदर सख्त  से सख्त कार्रवाई की गई है। केस सीजेएम के पास चला गया है।

– असम के नागांव में रेप की घटना पर टिप्पणी करते हुए लेखी ने कहा कि 5वीं कक्षा की 12 वर्षीय छात्रा के साथ 21 साल के जाकिर हुसैन नाम के शख्स ने रेप किया और उसे मिट्टी के तेल डाल कर जला दिया।

–  उन्होंने कहा कि हर रेप का राजनीतिककरण ना किया जाए। नागांव की लड़की भी मृत्यु हो चुकी है लेकिन इस विषय को सामने नहीं लाया गया।

– लेखी ने पार्टी की जम्मू और कश्मीर के 2 नेताओं की बयानबाजी पर कहा कि पार्टी के स्तर पर हम उनके बयानों का खंडन करते हैं और इस तरह के बयान नहीं दिए जाने चाहिए। भाजपा अपनी ओर से कार्यवाही कर रही है और पार्टी ने प्रस्ताव पास किया है। खुद डिप्टी सीएम निर्मल सिंह ने उनके बयानों का खंडन किया। तो आप निर्मल सिंह की बात सुनेंगे या उन दो लोगों की जो बहक गए हैं।

– लेखी ने कहा कि नेताओं को बयान ना देकर बल्कि यह कहना चाहिए कि अभी जांच हो रही है, जांच पूरा होने तक हमारे बयान का इंतजार करें।


Spread the love