बागपत इस गुफा में छिपे हैं राम रहीम के कारनामें, सिर्फ महिलाओं को मिलती थी एंट्री

Spread the love

बागपत. यूपी के बागपत स्थित बरनावा में डेरा सच्चा सौदा के आश्रम में भी एक गुफा है। यहां के अनुयायी और पूर्व चौकीदार बताते हैं, “गुफा में सिर्फ महिलाओं को ही एंट्री मिलती थी। दरवाजे पर लिखा है केवल बहनें।”

गुलाबी रंग की है गुफा, बाहर निकलने पर महिलाएं नहीं बताती हैं अंदर का सच
– बरनावा स्थित डेरे की गुफा गुलाबी रंग की है। डेरे में मौजूद पीली इमारत के पास से इस गुफा में जाने का रास्ता है। इसके अंदर केवल महिलाओं को हीजाने दिया जाता था। लोगों का कहना, “यहीं पर राम रहीम अपनी करतूतों को अंजाम देता था।”
– शेखपुरा गांव की महिला ने बताया, “एक बार जब वह गुफा में गई तो वहां कुछ लड़कियों की इज्जत के साथ खेला जा रहा था। उसे भी खींचने का प्रयास किया गया लेकिन वह किसी तरह वापस आ गई।”
– ग्रामीण धनपाल ने बताया, “गुफा में जाने वाली महिलाएं जब बाहर आती थीं तो वो अंदर का कोई भी वाक्या नहीं बताती थीं।”
– डेरे के पूर्व चौकीदार सन्नवर ने बताया, “गुफा में जाने वाली महिला से यदि उसका पति भी पूछता था तो वह नहीं बताती थी। महिलाएं पति को छोड़ने के लिए तैयार हो जाती थी लेकिन अंदर का सच नहीं बताती थी।
लिंटर डालते समय दब गए थे लोग
– ग्रामीणों का कहना है, “डेरे का निर्माण 1980 में हुआ था। इसके अंदर जबर लिंटर डाला जा रहा था तब अचानक यह गिर गया और मजूदर समेत सैकड़ों अनुयायी मलबे में दब गए। उस समय भी पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को डेरे के अंदर नहीं जाने दिया गया था।
– यदि डेरे की तलाशी ली जाए तो कई राज उजागर हो सकते हैं। यह करीब 700 बीघा में बना है। इस वक्त भी डेरे में किसी बाहरी को अंदर जाने की अनुमति नहीं है।
– डेरे के बाहर राम रहीम के सेवादार बैठे दिखाई देते हैं। मीडिया को भी यहां अंदर जाने की अनुमति नहीं है।”

Spread the love